BBT Times

Latest and Breaking News Samachar in Hindi from Bikaner

कांग्रेस आईटी सेल के विक्रम स्वामी ने अर्णब गोस्वामी के विरूद्ध आपत्तिजनक, भडक़ाऊ टिप्पणी पर मुकदमा दर्ज। जाने पूरी ख़बर

1 min read

BBT Times ,



बीकानेर , लूणकरणसर

प्रदेश सह संयोजक पीसीसी आई टी सेल विक्रम स्वामी ने लूणकरणसर पुलिस थाना में रिपब्लिक टीवी, रिपब्लिक भारत, उसके मालिक, मैनेजिंग डायरेक्टर ,मुख्य सम्पादक अर्णब गोस्वामी पुत्र मनोरंजन गोस्वामी के विरूद्ध अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी राष्ट्रीय अध्यक्ष श्रीमती सोनिया गांधी पर आपत्तिजनक, भडक़ाऊ टिप्प्णी करने पर मुकदमा दर्ज करवाया है।

विक्रम स्वामी ने बताया कि 21 अप्रेल को अर्णब गोस्वामी द्वारा रिपब्लिक चैनल पर ‘पूछता है भारत’ नामक कार्यक्रम आयोजित किया गया, जो पूरे भारत और विश्व में प्रसारित होता है। इसमें अर्णब गोस्वामी 16-17 अप्रेल की पालघर मॉब लिचिंग की घटना पर टीवी पर बहस कर रहे थे। इस बहस में अर्णब गोस्वामी ने आपत्तिजनक, भडक़ाऊ, द्वेषपूर्ण इशारे करते हुए कहा कि ‘भारत में 80 प्रतिशत हिन्दू है पालघर मॉब लिचिंग मामला जो कि 16-17 अप्रेल को घटित हुआ, उस मामले में कांग्रेस अध्यक्ष श्रीमती सोनिया गांधी चुप रही, ‘सोनिया एंटोनियो माइनो’ चुप रही। अगर किसी मौलवी या कोई पादरी अगर मारा जाता या उसके साथ हिंसा होती तो ‘इटालियन सोनिया गांधी’ और उनकी पार्टी के लोग विलाप करते। आज सोनिया गांधी शांत है क्योंकि उनके सहयोगी दल के साथ उन्होंने सरकार बना कर इटली रिपोर्ट करती है कि महाराष्ट्र में सरकार बना कर हिन्दुओ की हत्या करा दी है तो उन्हें इटली से शाबाशी मिलती है।’

विक्रम स्वामी ने कहा कि अर्णब गोस्वामी के ये कथन सिद्ध करते है कि उनके कथन और उनके विचार समुदायों के विरुद्ध है और एक समुदाय को दूसरे समुदाय के विरुद्ध भडक़ाने का प्रयास किया है।

विक्रम स्वामी ने कहा कि जब भारत जब भयंकर कोविड-19 महामारी से जूझ रहा है, ऐसे संकट में अर्णब गोस्वामी द्वारा भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस की अध्यक्ष श्रीमती सोनिया गांधी और उनके दल को पूरे भारत और विश्व में बदनाम किया गया। अर्णब गोस्वामी के कथनों ने भारत के अल्पसंख्यक वर्ग मुस्लिमो, ईसाइयों में भय और पक्षपात की भावना का प्रसार किया है।

विक्रम स्वामी ने कहा कि भारत का संविधान ‘धर्मनिरपेक्षता’ के सिद्धान्त का प्रसार करता है, परन्तु इन सिद्धांतों के विपरीत अर्णब गोस्वामी ने हिन्दू, मुस्लिम, सिख, ईसाई व अन्य धार्मिक विश्वासों पर टिप्पणी की और संकेतो के द्वारा सभी संविधान में विश्वास रखने वाली भावनाओं को आहत किया। इससे उनकी भावनायें आहत हुई है।

विक्रम स्वामी ने माँग की है कि अर्णब गोस्वामी आपराधिक मंसूबों के तरह अपनी अपराधिक मानसिकता को अंजाम दे रहा है, इसलिए उसके विरूद्ध मुकदमा दर्ज करके कड़ी कार्यवाही की जाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

*

code



DESIGN BY : INDIA HOSTING DADDY

Live Updates COVID-19 CASES