BBT Times

Latest and Breaking News Samachar in Hindi from Bikaner

‘‘आजादी का अमृत महोत्सव‘‘ के अवसर पर ‘‘मेगा एक्सपोर्टस कॉन्क्लेव‘‘ का शुभारम्भ।

1 min read

BBT Times, बीकानेर



बीकानेर, भारत सरकार द्वारा किये गये ‘‘ आजादी का अमृत महोत्सव‘‘ के तहत दिनांक 24.09.2021 को ‘‘ मेगा एक्सपोर्ट कॉन्क्लेव‘‘ का शुभारम्भ माननीय संसदीय कार्य एवं संस्कृति राज्य मंत्री भारत सरकार के श्रीमान अर्जुनराम मेघवाल द्वारा किया गया । इस अवसर पर बीकानेर के दस्तकार एवं उद्यमियों द्वारा किये जा रहे एक्सपोर्ट के उत्पाद की एक प्रदर्शनी लगाई गई जिसका माननीय संसदीय कार्य एवं संस्कृति मंत्री द्वारा अवलोकन किया।
श्रीमान अर्जुनराम मेघवाल अपने उद्बोधन में बीकानेर जिले में जैतुन के तेल के निर्यात की विपुल संभावनाऐं हैं इस हेतु बीकानेर जिले के किसानों को जैतुन की खेती करने के प्रोत्साहित किया जाना चाहिए साथ ही बतलाया कि वर्तमान में लूणकरणसर क्षेत्र में तेल रिफाईनरी स्थापित है अगर यहा के किसान जैतुन का उत्पादन करें तो यह एक बडा निर्यात का हब बन सकता है। बीकानेर जिले के पापड उद्योग में साजी संकट पर बोलते हुए कहा कि साजी का उत्पादन पाकिस्तान में होता है परन्तु वर्तमान में पाकिस्तान से आयात नहीं किया जा रहा है ओर बीकानेर जिला पाकिस्तान सीमा पर स्थित है तथा अनूपगढ, रायसिहनगर की भौगोलिक वातावरण साजी उत्पाद के लिए अनुकूल है साजी के उत्पादन के लिए यहां के किसानों को साजी उत्पाद के लिए प्रोत्साहित किया जा सकता है। बीकानेर जिले में वूल टैक्स प्रो के सहयोग से अगामी तीन माह में वूलन इण्डस्ट्रीज हेतु एक कार्यशाला का आयोजन किया जावेगा ओर बीकानेर में वूल इण्डस्ट्रीज हेतु पांच करोड की लागत से कॉमन फैसेलिटी सेंटर की स्थापना होने जा रही है जिसका 100 प्रतिशत अनुदान भारत सरकार द्वारा दिया जावेगा। बीकानेर में एग्रो फूड इण्डस्ट्रीज में बहुत संभावनाऐं है ओर यहां स्थापित उद्योगों को विभिन्न प्रकार की समस्याऐं आ रही है इस बाबत चेयरमैन, कृषि और प्रसंस्कृत खाद्य उत्पाद निर्यात विकास प्राधिकरण से व्यक्तिगत चर्चा करने पर उनके द्वारा बीकानेर में दो दिवसीय कार्यशाला अक्टूबर माह में आयोजित किये जाने की सहमति दी गई है।
श्री लेखराज महेश्वरी,पूर्व चेयरमेन, एक्सपोर्ट प्रमोशन कांउसिल फोर हैण्डीक्राफ्ट ने राज्य में हस्तशिल्प महत्व की चर्चा करते हुए बीकानेर से निर्यात की असीम संभावनाओं के बारे मंे बतलाया उन्होंने हस्तशिल्प में अवाज का बहुत महत्व है अगर आप अपने शिल्प के बारे में सही तरह से बता सकते है तो आप बाजार में अपने उत्पाद की सही किमत पा सकते हैं। उन्होंने उत्पाद के डिजाईन एवं क्वालिटी पर जोर रखने का पूरजोर समर्थन किया।
श्री चन्द्रकांत मिश्रा,सयुंक्त निदेशक,विदेश व्यापार महानिदेशालय ने बतलाया बीकानेर में निर्यात की विपुल संभावनाऐं है। उन्होंने बतलाया कि निर्यात करने की सोच रहे हैे तो शीध्र प्म्ब् कोड बनावऐं ।
श्री के.के.शर्मा, कार्यकारी अधिकारी, वूल टैक्स प्रो, मम्बई ने बतलाया कि बीकानेर में उनी गलीच उद्योग का विश्वपटल पर काफी नाम है। एवं जिसमें कच्ची ऊन को साफ किया जाता है जिससे काफी ऊन वेष्ट में जाती है इसके लिए उसे वापस यूज लेने हेतु तीन माह पश्चात् एक कार्यशाला का आयोजन किया जावेगा।
श्री आशीष वर्मा, एक्सर्पोट क्रडिट गांरटी कॉरपो0ऑफ इण्डिया ने निर्यात करने वाले उद्योगों को क्रेडिट बीमा कवर प्रदान करती है इसके बारे में विस्तृत रूप से बतलाया।
श्री डी.पी. पच्चीसिया ने बीकानेर जिले में एक्सपोर्ट में आ रही समस्याओं के बारे में बतलाते हुऐ माननीय मंत्री को अवगत करवाया कि बीकानेर से 25 हजार कन्टेनर आयात निर्यात में उपयोग होते है इस लिए बीकानेर जिले में शीध्र ड्राईपोर्ट की स्थापना की जावे ओर एक्सपोर्ट प्रमोशन कांउसिल फोर हैण्डीक्राफ्ट का कार्यालय बीकानेर में स्थाई रूप से खोला जावे।
श्री कमल कल्ला,अध्यक्ष, राजस्थान वूलन इण्डस्ट्रीज ऐशाशियेसन ने वूल को एग्रीकल्चर विभाग में रखने हेतु माननीय उद्योग मंत्री से अनुरोध करते हुए बतलाया कि यह ऊन उद्योगों को एग्रीकल्चर उद्योग के साथ रहने दिया जावे।
समारोह के अन्त में कार्यशाला में बनाये गये जिसमें से उपस्थित उद्यमियों को माननीय मंत्री महोदय के
श्रीमति मंजू नैण गोदारा ने बतलाया कि बीकानेर में निर्यात की संभावनाओं को देखते हुए सरकार द्वारा कार्यशाला का आयोजन किया गया है तथा कार्यशाला में 17 आईईसी प्रमाण पत्र जारी किये गये है। उपस्थित उद्यमियों पधारने का धन्यवाद दिया।
इस कार्यशाला में अहमदाबाद के भंवर लाल झंवर, कलकत्ता से हरिकिसन डागा, सी एम मूंधड़ा चेरिटेबल ट्रस्ट के श्रीकिसन मूंधडा, …



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

code





DESIGN BY : INDIA HOSTING DADDY

Live Updates COVID-19 CASES