BBT Times

Latest and Breaking News Samachar in Hindi from Bikaner

केंद्रीय मंत्री कैलाश चौधरी ने लगाया राजस्थान की गहलोत सरकार पर किसानों के साथ ढिलाई बरतने का आरोप

1 min read

BBT Times , नई दिल्ली, जयपुर



कृषि राज्यमंत्री कैलाश चौधरी ने कहा कि केंद्र के निर्देशों और सहायता राशि की अवहेलना करते हुए गहलोत सरकार ने बरती ढिलाई

केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण राज्यमंत्री कैलाश चौधरी ने रविवार को अपने आवास से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से प्रेसवार्ता को सम्बोधित किया। इस दौरान केंद्रीय मंत्री चौधरी ने केंद्र सरकार द्वारा कृषि क्षेत्र में प्रारंभ की गई विभिन्न योजनाओं एवं लॉकडाउन के दौरान किसानों की सुविधा के लिए उठाए गए विभिन्न कदमों के बारे में जानकारी प्रदान की। कैलाश चौधरी ने प्रेसवार्ता में राजस्थान की कांग्रेस सरकार पर गम्भीर आरोप लगाते हुए कहा कि गहलोत सरकार कोरोना को परास्त करने को लेकर पूरी तरह विफल रही है और उसने इस दौरान किसानों के साथ भी सौतेला व्यवहार किया है।

फसल खरीद में ढिलाई करके किसानों के साथ किया सौतेला व्यवहार : राज्‍य में पर्याप्‍त खरीद केंद्र नहीं होने के कारण इस बार गेहूं, सरसों और चना की खरीद शुरू नहीं हो पाई है। राजस्थान की 11341 पंचायतों पर केवल 719 खरीद केंद्रों की शुरुआत ही नहीं हुई है। इससे केवल 16 पंचायतों पर केवल एक खरीद केंद्र के हिसाब से बहुत ही कम है। देश के दुसरे राज्यों में जहां खरीफ फसल खरीद का कार्य पूर्ण हो चुका है, वहीं राजस्थान में इसकी ठीक से शुरुआत भी नहीं हुई है। इससे राजस्थान सरकार की लापरवाही साफ जाहिर हो रही है कि उसने किस तरह से प्रदेश के किसानों के साथ सौतेला व्यवहार किया है।

कृषि राज्यमंत्री कैलाश चौधरी ने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा खरीफ 2019 के लिए अप्रैल, 2020 तक राजस्‍थान राज्‍य में कुल 947.86 करोड़ राशि का भुगतान किया गया है। वहीं राजस्‍थान की कांग्रेस सरकार ने खरीफ 2019 तक कुल 787.43 करोड़ रुपये की सब्‍सिडी का भुगतान पेडिंग रखा हुआ है, इसमें खरीफ 2018 के 46.54 करोड़ रबी, 2018-19 के 24.89 करोड़ और खरीफ 2019 के 716 करोड़ की स्‍टेट सब्‍सिडी रिलीज नहीं की है।

इसी तरह केंद्रीय मंत्री कैलाश चौधरी ने कहा कि प्रधानमंत्री किसान सम्‍मान निधि योजना के अंतर्गत पूरे भारत में 7.92 करोड़ किसानों के खाते में सहायता राशि पहुंची। 2,000 रुपये की पहली किस्‍त कुल 15,841 करोड़ रुपये हस्‍तांतरित किये गये, उसमें से राजस्‍थान के लिए 744 करोड़ 8 लाख 30 हजार रुपये का भुगतान 37 लाख 20 हजार 415 किसानों को हुआ।
इसी तरह रबी फसल कटाई के दौरान राजस्‍थान के किसानों को लॉकडाउन के दौरान बड़ी राहत देने के लिए किसानों की रबी फसल की प्रति किसान खरीद 25 क्‍विंटल प्रतिदिन से बढ़ाकर 40 क्‍विंटल प्रतिदन कर दी गयी। इसके साथ ही किसानों को उत्‍पाद के खरीद की रिपोर्ट मिलने के तीन कार्यदिवस में भुगतान कर दिया गया।
चौधरी ने कहा कि किसान उत्‍पादों को खराब होने से बचाने के लिए किसान रेल शुरू की गयी। किसान रेल में 59 रूट्स पर 109 ट्रेनें शुरू की गई।

केंद्रीय मंत्री कैलाश चौधरी ने कहा कि प्रधानमंत्री गरीब कल्‍याण योजना के तहत अब तक 15.65 करोड़ महिलाओं के जनधन खाते में 7,825 करोड़ रुपये जमा करवाए गए, जिसमें 67 लाख 22 हजार सौ राजस्‍थानी महिलायें हैं। इनको 336 करोड़ 10 लाख 50 हजार रुपये की राशि डाल दी गयी।

किसान ट्रांसपोर्ट टोल फ्री नम्‍बर किसानों के लिए राहत भरा कदम : कृषि उत्पादों के परिवहन में आ रही समस्‍याओं के समाधान के लिए कृषि मंत्रालय ने कृषि ट्रांसपोर्ट टोल फ्री नम्‍बर 1800 180 4200 एवं 14488 शुरू किया। इस पर किसान कॉल करके सब्‍जी, फल, बीज या कीटनाशक उर्वरकों आदि के अन्‍तराज्‍यीय परिवहन में आने वाली समस्‍याओं को बताकर समन्‍वय स्‍थापना कर सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

*

code



DESIGN BY : INDIA HOSTING DADDY

Live Updates COVID-19 CASES