BBT Times

Latest and Breaking News Samachar in Hindi from Bikaner

कोरोना अपडेट: पिछले 24 घंटे में 553 लोग ठीक हुए, रिकवरी रेट 25 फीसदी पहुंचा !

1 min read

BBT Times,



स्वास्थ्य मंत्रालय व गृह मंत्रालय ने प्रेस कांफ्रेंस में आज कोरोना वायरस को लेकर नई जानकारियां दीं। स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने कहा कि पिछले 24 घंटे में 553 लोग ठीक हुए हैं, रिकवरी रेट 25.37 पहुंच गया है। वहीं, गृह मंत्रालय की संयुक्त सचिव पुण्य सलिला श्रीवास्तव ने राज्यों में फंसे लोगों को लेकर अहम जानकारी दी।

गृह मंत्रालय ने कहा
गृह मंत्रालय ने आज दूसरे राज्यों में फंसे प्रवासी मजदूरों, पर्यटकों, छात्रों को जाने की इजाजत दी है।
इन्हें रेलगाड़ियों से भी जाने की इजाजत दी गई है।
राज्य व रेलवे बोर्ड इस दिशा में कार्य कर रहे हैं।
मंत्रालय ने सभी राज्यों से कहा है कि ट्रकों, सामान ले जाने वाले वाहनों, खाली ट्रकों आदि के लिए किसी अलग पास की जरूरत नहीं होगी।
हमारे सुरक्षाबल भी कोरोना वायरस से निपटने में मदद दे रहे हैं।
पाकिस्तान से लगती सीमा पर जो किसान फसल काटने जा रहे हैं, उनके सैनिटाइजेशन में बीएसएफ ने मदद की है।
आईटीबीपी ने देश का पहला क्वारंटीन सेंटर स्थापित किया था।
ग्रीन जोन इलाके में कब सामान्य आवाजाही शुरू होगी, इस पर गाइडलाइंस का इंतजार करें।
स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा
24 घंटे में 553 लोग ठीक हुए हैं, रिकवरी रेट 25.37 हुआ।
पिछले 24 घंटे में 1993 नए केस सामने आए हैं। कुल संक्रमितों की संख्या 35,043 पहुंची।
जिलों को रेड, ऑरेंज और ग्रीन जोन में बांटा गया है।
जितने भी केस आए हैं उनके और कांटेक्ट को मैप किया जाए।
जैसे-जैसे रिकवरी रेट बढ़ रहा है, सैंपल आ रहे हैं, उसके मुताबिक ही रेड, ऑरेंज जोन तय किए जा रहे हैं।
देखा जा रहा है कि किस तरह से टेस्ट हो रहे हैं, हमारी टीम का क्या फीडबैक है, वहां की आबादी किस तरह की है।
अगर 21 दिन तक किसी जिले में कोई केस नहीं आता तो उसे ग्रीन जोन में ला सकते हैं।
अगर कोई केस मिलता है तो हमें उसे आगे बढ़ने से रोकना है।
चुनौती है कि जहां भी मामले आए हैं बिना कोताही के वहां हालात को संभाला जाए।
मुंबई में प्लाज्मा थेरेपी दिए जाने के बाद मरीजी की मौत पर अग्रवाल ने कहा- हमने पहले ही कहा था कि कोविड-19 की अभी तक कोई कन्फर्म थेरेपी नहीं है, चाहे वह प्लाज्मा थेरेपी ही क्यों ना हो।
अभी ये ट्रायल के दौर में है और इसे रिसर्च और ट्रायल के तौर पर ही लेना चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

*

code



DESIGN BY : INDIA HOSTING DADDY

Live Updates COVID-19 CASES