BBT Times

Latest and Breaking News Samachar in Hindi from Bikaner

इन श्रणियों में शामिल लोगों सहित प्रवासियों को मिलेगा लाभ । जाने पूरी खबर

1 min read

BBT Times, बीकानेर
लॉक डाउन के दौरान बनी विपरीत परिस्थितियों के कारण जिन लोगों के सामने रोजीरोटी के संकट खड़ा हो गया, उनके सर्वे का काम शुरू कर दिया गया है, सर्वे में शामिल होने वाले लोगों की श्रेणी बनाकर अंतिम रूप से एक सूची का प्रकाशन कर दिया गया है, जिन्हें सरकार की सहायता मिलेगी।
सर्वे में ऐसे लोगों को शामिल किया गया है, जिनके पास लॉकडाउन की वजह से कामकाज नहीं रहा। इसमें हैयर सैलून में कार्य करने वाले कार्मिक, कपड़े धुलाई व प्रेस करने वाले कार्मिक, फुटवेयर मरम्मत व पॉलिस करने वाले कार्मिक, घरों में साफ-सफाई करने वाले, खाना बनाने का काम करने वाले, चौराहों पर सामान बेचने वाले, रिक्शा व ऑटो चालक, पान की दुकान चलाने वाले, रेस्टोरेंट व होटल में वेटर व रसोइया, रद्दी बीनने वाले, भवन निर्माण करवाने वाले श्रमिक, कोरोना के कारण बंद हुए उद्योगों में लगे श्रमिक, प्राइवेट पब्लिक ट्रांसपोर्ट में कार्यरत ड्राइवर-कंडक्टर, ठेला-रेहड़ी वाले, धार्मिक संस्थाओं में पूजा-इबादत करवाने वाले, शादी व निकाह करवाने वाले, मैरिज पैलेस व केटरिंग का काम करने वाले, सिनेमा हॉल में काम करने वाले, कोचिंग संस्थानों के सफाई/सहायक का काम करने वाले, शादी समारोह में ढोल, बैंड बजाने वाले, घोड़ी लाने वाले, गाने-बजाने वाले, नगीना, आभूषण, चूडिय़ों के काम में लगे श्रमिक, फर्नीचर के काम में लगे श्रमिक, बुक बाइंडर, प्रिंटिंग प्रेस में के कार्य में लगे श्रमिक, रंगाई, पुताई आदि का काम करने वाले,पर्यटक गाइड, कठपुतली का खेल दिखाने वाले, इंट भट्ठों में काम करने वाले, फूल माला बेचने वाले, टायर-पंचर बनाने वाले, पत्तल दोने बनाने वाले, घुमंतु-अद्र्ध घुमंतु व्यक्ति, गाडिय़ा लुहार, झूले वाले, खेल-तमाशा दिखाने वाले, जादू-करतब दिखाने वाले, लोक-कलाकार, कालबेलिया, मांगणियार, कुली-हमाल, मिट्टी के बर्तन बनाने वाले लोगों को शामिल किया गया है। बता दें, केंद्रीय मंत्री अर्जुनराम मेघवाल के प्रवक्ता अशोक भाटी ने इस सूची में कुली का काम करने वालों को शामिल करने की मांग की थी। सूची में कुली-हमाल को भी शामिल कर लिया गया है।
प्रदेश में कामकाज की तलाश में आए लोगों सहित 37 श्रेणी के इन लोगों को प्रति व्यक्ति के हिसाब पांच-पांच किलो गेहूं दिया जाएगा। यह गेहूं संबंधित राशन की दुकान से मिलेगा। इसमें वे ही लोग शामिल होंगे, जिन्हें खाद्यान्न सुरक्षा योजना में लाभ नहीं मिल रहा है।



Leave a Reply

Your email address will not be published.

*

code

यह देखना न भूलें !



DESIGN BY : INDIA HOSTING DADDY

Live Updates COVID-19 CASES